गोडसे का बयान सार्वजनिक हो,विचार रोके नहीं जा सकते|

(राजस्थान पत्रिका  में दिनांक 18/02/2017 को प्रकाशित खबर से साभार)